संदेश

देवेन्द्र मेवाड़ी आलेख ‘कायनात के काम में दखल’

चित्र
विज्ञान ने हमारी दुनिया को पूरी तरह से बदल कर रख दिया है। विज्ञान ने मानवीय ज्ञान और गरिमा को स्थापित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभायी है। इस दुनिया का अगर कोई स्रष्टा है और अगर वह अपनी बनायी इस पृथ्वी को देखने आ जाए तो वह इसे पहचान भी नहीं पाएगा। चिकित्सा हो या शिक्षा, यातायात हो या संचार जीवन का हर क्षेत्र विज्ञान से पूरी तरह प्रभावित है। देवेन्द्र मेवाड़ी विज्ञान को आधार बना कर तर्कपूर्ण आलेख लिखते रहे हैं, जिसे पढ़ कर हमारी सोच और समझ का वितान बहुत कुछ बदल जाता है। हाल ही में कादम्बिनी के हालिया अंक में मेवाड़ी जी का एक जरुरी आलेख प्रकाशित हुआ है। हम इसे पहली बार पर साभार प्रस्तुत कर रहे हैं। आज जब लोग कुछ और अधिक धार्मिक, कह लें और अधिक संकीर्ण होते जा रहे हैं, ऐसे में मेवाड़ी जी का यह प्रयास अत्यन्त महत्वपूर्ण है। आज पहली बार पर प्रस्तुत है मेवाड़ी जी का एक जरुरी आलेख ‘कायनात के काम में दखल’।
कायनात के काम में दखल


देवेंद्र मेवाड़ी

मेरी कथा के रसिको!
कायनात के बारे में कभी अकेले में आप कल्पना तो जरूर करते होंगे। अंधेरी रात में जब आसमान में अनगिनत सितारे टिमटिमा रहे हों और चाँद अपनी धवल,

कैलाश बनवासी की कहानी ‘नो’

चित्र